पाकिस्तानी सेना ने घटाया अपना बजट

admin 6:49 AM 1
img

5 जून 2019. आर्थिक संकट से गुजर रहे पाकिस्तान की सेना ने अपने खर्चों में कटौती की घोषणा की है। पाकिस्तानी सेना को अगले वित्तीय वर्ष के लिए अपने रक्षा बजट में कटौती पर मजबूर होना पड़ा। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने सेना के इस फैसले का स्वागत किया है। इमरान खान ने ट्वीट किया, ''कई सुरक्षा चुनौतियों के बावजूद आर्थिक संकट की घड़ी में सेना की ओर से अपने खर्चे में की कटौती के फैसले का स्वागत करता हूं। हम इन बचाए गए रुपयों को बलूचिस्तान और कबायली इलाकों में खर्च करेंगे।'' पाक सेना के इस कदम के बारे में प्रधानमंत्री इमरान खान ने ट्वीट कर जानकारी दी थी। इसके बाद पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफ़्फूर ने ट्वीट कर कहा, ''एक साल के लिए सेना के डिफेंस बजट में कटौती का देश की सुरक्षा पर कोई असर नहीं होगा। हम हर खतरे को असरदार तरीके से जवाब देंगे। तीन सर्विस इस कटौती से होने वाले प्रभाव को संभालने का काम करेंगी। बलूचिस्तान और ट्राइबल इलाकों की बेहतरी के लिए ये एक जरूरी कदम था।'' पाकिस्तान ट्रिब्यून अखबार ने वित्त मंत्रालय के सूत्रों के हवाले से बताया है अगले वित्तीय वर्ष का अनुमानित रक्षा बजट 1.270 ट्रिलियन रुपए है जो कि खत्म होते वित्तीय वर्ष के रक्षा बजट से 170 अरब रुपए ज्यादा है। इस बजट में पूर्व सैनिकों की पेंशन, रणनीतिक खर्च और स्पेशल सैन्य पैकेज में होने वाले खर्च शामिल हैं। पाक सेना के फैसले की तारीफ पाकिस्तानी सेना ने अपने खर्चों में खुद से कटौती की तो सोशल मीडिया पर तारीफ होने लगी। डॉ आएशा नाम की यूजर ने लिखा, ''पाकिस्तान के इतिहास में ये पहली बार हो रहा है, जब सेना अपने बजट में खुद से कटौती कर रही है। सेना आप वाकई इज्जत के काबिल हैं।'' जुबैर ने लिखा, ''ये एक तारीफ लायक कदम है। उम्मीद करते हैं कि फंड मुहैया कराते हुए पारदर्शिता बरती जाएगी।'' अब सेना ने भले ही रक्षा बजट में कटौती की बात की है लेकिन फरवरी में पाकिस्तानी सरकार ने ये फैसला किया था कि देश के रक्षा बजट में किसी तरह की कटौती नहीं की जाएगी। इसी दौर में भारतीय सेना ने पाकिस्तान के बालाकोट में सर्जिकल स्ट्राइक करने का दावा किया था। तब दोनों देशों के बीच युद्ध जैसे हालात हो गए थे। हालांकि भारतीय वायुसेना के पायलट विंग कमांडर अभिनंदन की वापसी के बाद दोनों देशों के बीच हालात सामान्य होने लगे थे।

Related Post