Latest News

मेनका गांधी की राह में पति के दोस्त संजय सिंह हैं रोड़ा

admin 6:49 AM 1
img

10 मई 2019, 12 मई को होने वाले मतदान के लिए चुनाव का आखिरी दिन है। मेनका गांधी की टीम ने सांसद वरुण गांधी की विरासत को बचाने के लिए पूरी ताकत झोंक दी है। बड़ी संख्या में दूसरे क्षेत्रों से आए भाजपा और संघ के कार्यकर्ताओं ने भी कमान संभाल रखी है। लेकिन घर-घर दस्तक देकर मेनका को सांसद बनाने की राह में सबसे बड़ा रोड़ा उनके पति संजय गांधी के दोस्त और कांग्रेस के उम्मीदवार संजय सिंह बने हैं। अमेठी के संजय सिंह सुल्तानपुर में अपनी एक पकड़ रखते हैं। अगड़ी जाति का वह बड़े पैमाने पर वोट काट रहे हैं और प्रियंका गांधी के प्रचार ने भी संजय को एक ताकत दे दी है। मेनका और संजय के साथ मुकाबले में गठबंधन के प्रत्याशी चंद्रभद्र सिंह हैं। दबंग किस्म के चंद्रभद्र सिंह बसपा के विधायक रह चुके हैं। चंद्रभद्र सिंह के खाते में बसपा का कॉडर वोट, समाजवादी पार्टी के मतदाताओं की पूंजी है। हालांकि शिवपाल की प्रगतिशील समाजवादी पार्टी(लोहिया) की प्रत्याशी कमला यादव उन्हें कुछ नुकसान पहुंचा रही हैं, लेकिन चंद्र भद्र के समर्थक अखिलेश सिंह का कहना है कि यादव समेत अन्य पिछड़ा वर्ग, मुसलमान और अनुसूचित जातियों का वोट चुनाव में जीत पाने का संख्याबल दे रहा है। रितेश सिंह का कहना है कि सुल्तानपुर में अच्छी संख्या में ठाकुर मतदाता हैं। इनमें भी बंटवारा हो रहा है। कुछ हिस्सा संजय सिंह के साथ रहेगा, जो कट्टर भाजपाई हैं, वह कमल के साथ रहेंगे, लेकिन एक तिहाई से अधिक वोट चंद्रभद्र सिंह के खाते में आएगा। जबकि मेनका गांधी के पास गांधी परिवार की बहू, भाजपा की प्रत्याशी होने के अलावा क्या है।

Related Post